ट्रंप बोले, भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव में आई कमी, चाहें तो मध्यस्थता को तैयार

वॉशिंगटन। पिछले महीने जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने यानी वहां से आर्टिकल 370 हटाने के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में और तल्खी बढ़ गई है। पाकिस्तान को भारत का यह कदम बिल्कुल नागवार गुजरा और वह कई तरह से इसका विरोध जता चुका है। उसने कई देशों के सामने इस समस्या को रखा, लेकिन चीन के अलावा किसी ने भी खुलकर उसका समर्थन नहीं किया।

हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जब-तब दोनों पड़ोसी देशों के बीच मध्यस्थता करने की बात कहते रहते हैं। एक बार फिर उन्होंने यही राग अलापा है। ट्रंप का कहना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव में कमी आई है। अगर ये दोनों देश चाहें तो हम मदद करने के लिए तैयार हैं। ट्रंप ने करीब 15 दिन पहले जी-7 बैठक में भी इस मुद्दे को उठाया था। वहां भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात में उन्होंने कहा था कि दोनों देशों के बीच किसी तीसरे देश के दखल की जरूरत नहीं है।

ट्रंप ने सोमवार को व्हाइट हाउस में प्रेस से बात करते हुए कहा कि करीब दो हफ्ते पहले भारत और पाकिस्तान के बीच जिस स्तर का तनाव था उसमें कमी आई है। जब उनसे पूछा गया कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति में अमेरिका की भूमिका को किस तरह देखते हैं तो उन्होंने जवाब दिया कि दोनों देशों से अमेरिका का बेहतर रिश्ता है।

ई-पत्रिका

धर्म

Scroll Up