Sleeping hungry at night: वजन घटाने के लिए रात को सो रहे हैं भूखे पेट 3,जान लें बॉडी पर क्‍या पड़ेगा असर?

 

Sleeping hungry at night: वजन घटाने के लिए रात को सो रहे हैं भूखे पेट,जान लें बॉडी पर क्‍या पड़ेगा असर?Sleeping hungry at night: आजकल इंटीमेट फास्टिंग का काफी प्रचलन चल रहा है. अपने बॉडी को फिट रखने के लिए कई लोग इस प्रक्रिया को अपने रूटीन में फॉलो कर रहे हैं.  पहले उल-जूलल खाओ फिर 16 घंटे का व्रत रहो. वेट लॉस के लिए इंटरमिटेंट फास्टिंग को अपनाने से पहले इससे होने वाले जोखिमों के बारे में जरूर जान लें.

Sleeping hungry at night: वजन कम करने के लिए सोते है भूखे पेट

वजन कम करने के लिए कुछ लोग खाली पेट रात में सो जाते हैं. खाली पेट सोने की आदत ज्यादातर लोगों में पायी जाती है. खाली पेट सोने की आदत ज्यादातर उन लोगों में होती है जो बहुत बीजी लाइफ में जीते हैं. कुछ लोगों में तो वजन को लेकर चिंता रहती है तो रात का भोजन नहीं करते हैं और खाली पेट सो जाते हैं.  लेकिन खाली पेट सोने से सेहत पर क्या असर पड़ता है इसके बारे में लोग बिना सोचे ही ऐसा करते रहते हैं. अगर आप भी खाली पेट सोते हैं तो आपको इसके खतरे के बारे में जरूर जान लेना चाहिए. क्योंकि खाली पेट सोना खतरे से खाली नहीं है.

Sleeping hungry at night: एसिडिटी और ब्‍लोटिंग

इंटरमिटेंट फास्टिंग कुछ के लिए एसिडिटी और ब्‍लोटिंग को ट्रिगर कर सकता है. जब आप लंबे समय से भूखे होते हो तो भूख लगने पर ज्‍यादा खाना खा लेते हैं. जो एसीडिटी का कारण बनता है.नॉन-फास्टिंग के घंटों में आपको अत्यधिक क्रेविंग होती है और आप अधिक मात्रा में भोजन करते हैं.

Sleeping hungry at night: पोषक तत्व व विटामिन की कमी 

अगर आप लगातार रात का खाना नहीं खाते हैं या बिना खाना खाये सोते हैं तो आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने लगती है. पोषक तत्वों के साथ शरीर में विटामिन की भी कमी होने लगती है.

विटामिन और पोषक तत्वों की कमी की वजह इंसा कई बीमारियों की चपेट में आने लगता है. अगर आप बीमारियों से बचना चाहते हैं तो आपको रात के खाने को कभी भी छोड़ना चाहिए. रात में अगर ज्यादा खाने का मन नहीं है तो हल्का खाना खायें या दूध जैसे तरल पदार्थ ले सकते हैं.

Benefits of desi ghee: खाली पेट करें देशी घी का सेवन, इतने फायदे जानकर हैरान हो जाओगे आप

Sleeping hungry at night: मेटाबॉलिज्म होता है कमजोर 

खाली पेट सोने से शरीर का मेटाबॉलिज्म कमजोर होने लगता है. मेटाबॉलिज्म कमजोर होने की वजह से शरीर में कई तरह की बीमारी की संभावना होने लगती है डायबिटीज और मोटापा की परेशानी सबसे पहले उन लोगों को होती है जिनका मेटाबॉलिज्म कमजोर होता है.

Sleeping hungry at night: नींद की समस्या

कुछ शोध से पता चलता है इंटरमिटेंट फास्टिंग करने वाले कुछ लोगों को नींद की समस्या जैसे नींद न आना या नींद पूरी न होने जैसी दिक्कतें हो सकती हैं. समय पर अगर नींद की समस्या पर ध्यान न दिया जाए तो इसके कई तरह के गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं.

Sleeping hungry at night:थकान और कमजोरी की समस्या

ज्यादा देर तक कुछ न खाने के कारण शरीर में ऊर्जा का स्तर कम हो जाता है, जिसके कारण थकान या कमजोरी महसूस होती रह सकती है. आपका शरीर मूत्र के माध्यम से अधिक मात्रा में नमक और पानी को बाहर निकालता रहता है ऐसे में ज्यादा देर तक इंटरमिटेंट फास्टिंग के कारण डिहाइड्रेशन या शरीर में सोडियम की कमी हो सकती है. इन स्थितियों में भी थकान और कमजोरी का अनुभव होता है. बिना किसी विशेषज्ञ के सलाह के इंटरमिटेंट फास्टिंग नहीं करनी चाहिए.

Sleeping hungry at night: शुगर लेवल होता है प्रभावित

रात के समय खाना न खाने से बॉडी का इनर सिस्टम गड़बड़ा जाता है और इससे इंसुलिन का स्तर भी प्रभावित होता है. ज्यादा देर तक कुछ न खाने से ब्लड शुगर का लेवल कम हो जाता है जिसके कारण आपको कई तरह के दुष्प्रभाव हो सकते हैं. यह आपके मूड के प्रभावित कर सकता है.  इसका सीधा प्रभाव आपके हार्मोन कलेस्ट्रॉल और थायरॉयड पर भी पड़ता है जिससे शरीर में कई प्रकार की बीमारियां और कमियां हो जाती हैं.

Related Articles

Back to top button