Home » जनता की आवाज, ‘भाजपा हटाओ और प्रदेश बचाओ’: कमलनाथ

जनता की आवाज, ‘भाजपा हटाओ और प्रदेश बचाओ’: कमलनाथ

भोपाल: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को पदभार ग्रहण करने के बाद कहा कि प्रदेश का हर वर्ग बीजेपी सरकार से परेशान हो चुका है. कमलनाथ ने राज्य सरकार के कृषि पर दिए जाने वाले आंकड़ों पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश की 75 फीसदी अर्थव्यस्था कृषि पर निर्भर है. सरकार जीडीपी के आंकड़ों से जनता को गुमराह करने में लगी है. अब जनता गुमराह नही होगी. उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसान आत्महत्या कर रहा है और सरकार कह रही है कि कृषि पुरस्कार मिल रहे हैं. उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों समेत नौजवानों के लिए भी चुनौती है.

कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश की जनता अब भाजपा से मुक्ति चाहती है. जनता भाजपा हटाओ और प्रदेश बचाओ की मांग कर रही है. उन्होंने कहा कि “राज्य का हर वर्ग परेशान है. नौजवान भटक रहा है, किसान और व्यापारी दुखी हैं, महिलाएं असुरक्षित हैं, आज जो भीड़ जमा हुई है, वह जनता की आवाज उठा रही है.” कमलनाथ ने कहा कि राज्य में बदलाव की हवा चल रही है और ये बदलाव तय है.

वहीं कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस राज्य में सबको साथ लेकर आगे बढ़ने की नीति पर चलेगी. उन्होंने सीएम शिवराज सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि शिवराज सिंह को तो प्रदेश की जनता से भी भय नहीं है. उन्हें लगता है कि जनता के लिए काम न करने के बावजूद वो फिर से सरकार बना लेंगे. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस अपना संगठन मजबूत करेंगी और प्रदेश के हर गांव में संगठन को मजबूत किया जाएगा. इस दौरान मंच पर कमलनाथ के साथ ,ज्योतिरादित्य सिंधिया, कांतिलाल भूरिया, अरुण यादव, अजय सिंह, सुरेश पचौरी मौजूद थे.

गौरतलब है कि कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के नवनियुक्त अध्यक्ष और दिग्गज नेता कमलनाथ मंगलवार सुबह करीब 11 बजे को भोपाल के राजा भोज अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे थे. हवाई अड्डे पर कमलनाथ का जोरदार स्वागत किया गया था. कमलनाथ के स्वागत के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हवाईअड्डे से लेकर कांग्रेस कार्यालय तक कई स्थानों पर स्वागत द्वार बनाए थे. कमलनाथ एयरपोर्ट से खुली जीप पर सवार होकर पीसीसी के लिए रवाना हुए थे. हवाई अड्डे से निकलने के बाद कमलनाथ और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया आदि नेताओं ने रोड शो के माध्यम से अपनी एकजुटता दिखाई थी.

ई-पत्रिका

मनोरंजन

धर्म