Home » गठबंधन के सवाल पर बीजेपी ने शिवसेना को दिलाई बाला साहब के सिद्धांतों की याद, कहा- उद्धव सिर्फ पार्टी संचालक हैं

गठबंधन के सवाल पर बीजेपी ने शिवसेना को दिलाई बाला साहब के सिद्धांतों की याद, कहा- उद्धव सिर्फ पार्टी संचालक हैं

मुंबई: महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी के बीच चल रही उठा-पटक के बीच अब मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दोनों के साथ में ही 2019 का चुनाव लड़ने का इशारा किया है। फडणवीस ने कहा कि है कि ‘‘छद्म धर्मनिरपेक्ष’’ विपक्ष का मुकाबला करने के लिए सभी ‘‘धर्मनिरपेक्ष लेकिन हिन्दुत्ववादी’’ दल एकजुट होंगे यह कहकर उन्होंने संकेत दिया कि भाजपा और नाराज चल रहा सहयोगी दल शिवसेना 2019 का चुनाव मिलकर लड़ेंगे। शिवसेना और बीजेपी इस समय मुंबई महानगरपालिका, महाराष्ट्र विधानसभा और केंद्र की एनडीए सरकार में सहयोगी है लेकिन तीन तीन गठबंधन की सरकार चलाने के बावजूद दोनों पार्टियों के संबंधों में तल्खी है।

2014 के चुनाव के बाद से ही दोनों पार्टियां एक दूसरे के खिलाफ भी चुनाव लड़ चुकी है। पहले महाराष्ट्र विधानसभा और उसके बाद मुबई महानगरपालिका में भी दोनों पार्टियां अलग-अलग चुनाव लड़ चुकी है। कुछ दिन पहले शिवसेना ने ऐलान किया था कि वो 2019 के चुनाव में अकेले जाएगी। उधर विपक्षी दल कांग्रेस और एनसीपी के बीच गठबंधन के संकेतों नें बीजेपी के कान खड़े कर दिए हैं। विपक्षी गठबंधन को देखते हुए बीजेपी ने शिवसेना को बाला साहब ठाकरे की याद दिलाई है। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘शिवसेना को भले ही उद्धव ठाकरे संचालित कर रहे हैं, लेकिन यह दिवंगत बाला साहेब ठाकरे के सिद्धांतों पर चलती है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए मैं कह सकता हूं कि छद्म धर्मनिरपेक्ष विपक्षी दलों का मुकाबला करने के लिए सभी धर्मनिरपेक्ष लेकिन हिन्दुत्ववादी दल एकजुट होंगे। फडणवीस ने कहा, ‘‘बाला साहेब का भी यही मानना था।’’ वह यहां ‘लोकमत महाराष्ट्रियन ऑफ द ईयर 2018’ पुरस्कार समारोह में बोल रहे थे।

ई-पत्रिका

मनोरंजन

धर्म