मणिपुर: बीरेन सिंह सीएम पद से नहीं देंगे इस्तीफा

Manipur: पूर्वोत्तर राज्य मणिुपर बीते तीन महीनों से जातीय हिंसा की मार झेल रहा है। हिंसा के बीच लगातार आलोचनाओं का सामना कर रहे राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है। बीरेन सिंह ने इस बाबत ट्वीट करेत हुए लिखा कि मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि इस बुर समय में मैं मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा नहीं दूंगा।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीरेन सिंह राज्यपाल अनुसुइया उइके को अपना इस्तीफा देना चाहते थे।

इस्तीफा देने के लिए बीरेन सिंह राज्यपाल से मिलने के लिए निकल भी चुके थे। बता दें कि बीरेन सिंह के समर्थन बड़ी संख्या में उनके घर के बाहर एकत्र हुए हैं और बीरेन सिंह को इस्तीफा नहीं देने की मांग तथा सीएम हाउस वापस आने की मांग कर रहे हैं। ऐसे में समर्थकों व जनता के दबाव में बीरेन सिंह ने इस्तीफा नहीं दिया है। बता दें कि बीरेन सिंह के समर्थन में महिलाएं भी सड़कों पर उतर आई हैं। वर्तमान में राहुल गांधी मणिपुर में हैं और उन्होंने बीते कल हिंसा से प्रभावित लोगों से मुलाकात कर उनका हाला जाना था। उन्होंने वीरेन सिंह की सरकार पर आरोप लगाया था कि हालात को संभालने में सरकार नाकाम रही है।

राज्यपाल से मिले थे अमित शाह

बता दें कि बीते कल राहुल गांधी सड़क के रास्ते इंफाल के लिए रवाना हुए थे. इससे पहले उनके काफिले को सुरक्षा के लिहाज से रोक दिया गया. इसके बाद उन्हें हेलीकॉप्टर के माध्यम से ले जाया गया जहां उन्होंने हिंसा प्रभावित लोगों से मुलाकात की थी. इससे पहले रविवार को सीएम बीरेन सिंह राजधानी दिल्ली पहुंचे थे। यहां उन्होंने हिंसा को लेकर गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. इस बैठक के बाद उन्होंने कहा था कि केंद्र और राज्य की सरकार मिलकर हिंसा को नियंत्रित करेगी और राज्य में फिर से शांति बहाल करेगी. वहीं मंगलवार के दिन अमित शाह ने राज्यपाल अनुसुइया उइके से भी मुलाकात की थी.

News Source Link:

Related Articles

Back to top button