IPL 2018: स्मिथ-वॉर्नर की कमी से उबरकर भिड़ेंगे राजस्थान और हैदराबाद

 

हैदराबाद: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल 2018) मैच में आज (9 अप्रैल) भिड़ने जा रहे हैदराबाद और राजस्थान को अपने अपने कप्तानों क्रमश: डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ की कमी से उबरना होगा. टूर्नामेंट में दो साल के निलंबन के बाद वापसी कर रहे राजस्थान, और हैदराबाद दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ करने को लेकर बीसीसीआई द्वारा प्रतिबंधित किए गए अपने महत्वपूर्ण खिलाड़ियों की कमी का सामना कर रहे हैं. जहां स्मिथ की अनुपस्थिति में अजिंक्य रहाणे राजस्थान का नेतृत्व करेंगे तो वहीं, न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन हैदराबाद की कमान संभालेंगे.

हालांकि, ज्यादातर टीमों में वार्नर और स्मिथ की जगह कोई नहीं ले सकता, दोनों ही टीमें अब भी कागज पर काफी संतुलित दिख रही हैं. जहां हैदराबाद नीलामी में अपने अधिकतर खिलाड़ियों को बनाए रखने में सफल रहा था, वहीं पारंपरिक रूप से नीलामी में कम खर्च करने वाली टीम राजस्थान ने बेन स्टोक्स (12.5 करोड़ रुपए) और जयदेव उनादकट (11.5 करोड़ रुपए) जैसे खिलाड़ियों पर काफी पैसे खर्च किए और वे इस सीजन की सबसे महंगे खिलाड़ी साबित हुए.

राजस्थान ने खरीदे सबसे महेंद खिलाड़ी 
राजस्थान ने ससेक्स के हरफनमौला खिलाड़ी जोफ्रा आर्चर (7.2 करोड़ रुपए) और कर्नाटक के के. गौतम (6.2 करोड़ रुपए) जैसे नए खिलाड़ियों पर भी काफी पैसे खर्च किए. टीम में बिग बैश लीग (बीबीएल) स्टार डार्सी शॉर्ट और दक्षिण अफ्रीका के हेनरिक क्लासेन शामिल हैं जिन्हें स्मिथ की जगह टीम में शामिल किया गया है. टीम प्रबंधन ने इस बार काफी पैसे खर्च किए हैं और वह अपने निवेश से मैदान में अच्छे नतीजे मिलने की उम्मीद कर रहा होंगे.शेन वार्न मुख्य कोच के रूप में वापस आ गए हैं और राजस्थान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी के मार्गदर्शन में 2008 के बाद एक बार फिर अपने लिए गौरव अर्जित करने की उम्मीद कर रहा होगा. 2008 में हुए पहले आईपीएल में राजस्थान की टीम विजेता बनकर उभरी थी.

दूसरे आईपीएल खिताब पर हैं सनराइजर्स की नजरें
छठी बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में उतर रही हैदराबाद की नजरें 11वें सीजन में दूसरी बार खिताब अपने नाम करने पर हैं. उसके लिए हालांकि, बुरी बात यह है कि 2016 में टीम को पहला खिताब दिलाने वाले कप्तान डेविड वॉर्नर इस बार टीम में नहीं हैं. बॉल टैम्परिंग विवाद के कारण वह आईपीएल से प्रतिबंधित कर दिए गए हैं.

वॉर्नर की कमी बेशक टीम को खलेगी. वह पिछले सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे. उनकी जगह टीम प्रबंधन ने न्यूजीलैंड के केन विलियम्सन को टीम का कप्तान नियुक्त किया है. विलियम्सन हालांकि, पिछले सीजन में कई मैचों में बाहर बैठे थे. लेकिन राष्ट्रीय टीम का कप्तान होने के नाते विलियम्सन सनराइजर्स के सामने सबसे सही विकल्प थे.

बल्लेबाजी में विलियमसन के अलावा सलामी बल्लेबाज शिखर धवन पर वार्नर की गैरमौजूदगी में बड़ी जिम्मेदारी होगी. वॉर्नर के अलावा फ्रेंचाइजी ने तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और अफगानिस्तान के स्पिन गेंदबाज राशिद खान को रिटेन किया था. वॉर्नर के स्थान पर टीम प्रबंधन ने इंग्लैंड के तूफानी बल्लेबाज एलेक्स हेल्स को टीम में चुना है. वहीं मध्यक्रम में इस पूर्व विजेता के पास विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा और मनीष पांडे जैसे नाम हैं.

2016 में आईपीएल जीतने वाली हैदराबाद की टीम में वॉर्नर की अनुपस्थिति से शीर्ष बल्लेबाजी क्रम में एक बड़ी कमी आ गई है, हालांकि एलेक्स हेल्स शिखर धवन के साथ पारी की अच्छी शुरुआत करने में सक्षम हैं. हैदराबाद में मध्यक्रम को मजबूती देने के लिए मनीष पांडे और यूसुफ पठान को लिया गया है जबकि वह सबसे मजबूत गेंदबाजी आक्रमण वाली टीमों में भी शामिल है.

साहा ने हाल ही में एक घरेलू टी-20 मैच में 20 गेंदों में शतक लगाया था. इनके अलावा राजस्थान, कोलकाता के साथ खिताब जीतने का स्वाद चख चुके युसूफ पठान इस बार सनराइजर्स की जर्सी में दिखेंगे. हैदराबाद के लिए सबसे अच्छी बात वेस्टइंडीज के कार्लोस ब्राथवेट और बांग्लादेश के शाकिब अल हसन जैसे हरफनमौला खिलाड़ी हैं

हैदराबाद के मुख्य कोच टॉम मूडी ने हाल में कहा था कि कप्तानी में एकाएक किए गए बदलाव का टीम पर ज्यादा असर नहीं पड़ा है. हालांकि, विलियम्सन कप्तानी के लिहाज से नए नहीं है, उनसे कप्तानी की भूमिका में तेजी से अच्छे नतीजे देने की उम्मीद की जाएगी.

टीमें : 

राजस्थान : अजिंक्य रहाणे (कप्तान), बेन स्टोक्स, जयदेव उनादकट, जोस बटलर, राहुल त्रिपाठी, डार्सी शॉर्ट, संजू सैमसन, प्रशांत चोपड़ा, धवल कुलकर्णी, आर्यमान बिरला, जोफ्रा आर्चर, बेन लॉफलिन, अनुरीत सिंह, दुश्मान्था चमीरा, ज़हीर खान, मिधुन एस, अंकित शर्मा, स्टुअर्ट बिन्नी, कृष्णप्पा गौतम, जतिन सक्सेना, श्रेयस गोपाल, महिपाल लोमरोर.

हैदराबाद : केन विलियम्सन (कप्तान), भुवनेश्वर कुमार, मनीष पांडे, राशिद खान, शिखर धवन, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), संदीप शर्मा, शाकिब अल हसन, कार्लोस ब्राथवेट, युसूफ पठान, मोहम्मद नबी, एलेक्स हेल्स, क्रिस जोर्डन, बिलि स्टानलेक, बिपुल शर्मा, मेहेदी हसन, रिकि भुई, सचिन बेबी, तन्मय अग्रवाल.

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up