बीजेपी NRC मुद्दे को सुलझाने के बजाए इस पर राजनीति कर रही है: चांडी

तिरुवनंतपुरम: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ओमन चांडी ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि पार्टी असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी(एनआरसी) मुद्दे पर विपक्ष की चिंताओं को सुलझाने के बजाय इस सूची को लेकर राजनीति कर रही है। अपने फेसबुक पोस्ट में चांडी ने दावा किया कि वास्तविक नागरिक देश से निर्वासित नहीं हों, यह सुनिश्चित करने के बजाय सरकार ने इस संबंध में बहुत असंवेदनशील रवैया अपनाया है। चांडी आंध्र प्रदेश के अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के महासचिव हैं। उन्होंने दावा किया, ‘‘तेलंगाना से एक भाजपा विधायक ने देश छोड़ने से इनकार करने वाले लोगों को गोली मारने की वकालत की है। अब तक भाजपा ने उनके खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया है, जो यह दिखाता है कि पार्टी उनके विचारों से सहमत है।’

तेलंगाना से भाजपा विधायक टी राजा सिंह लोध ने 31 जुलाई को कहा था कि उन अवैध बांग्लादेशी निवासियों एवं रोहिंग्या लोगों को गोली मार देनी चाहिए, अगर वे भले आदमी की तरह अपने-अपने देश नहीं लौट जाते। उन्होंने असम में वास्तविक भारतीय नागरिकों की पहचान के लिये उच्चतम न्यायालय की निगरानी में चलाये जा रहे अभियान के संदर्भ में ये बातें कहीं। गौरतलब है कि एनआरसी की अंतिम मसौदा सूची में 40 लाख से अधिक लोगों का नाम नहीं है।

ओमन चांडी ने कांग्रेस के खिलाफ ‘‘दुष्प्रचार’’ बताते हुए भाजपा के उस आरोप का भी विरोध किया कि कांग्रेस राजनीतिक हित के लिये एनआरसी का विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस ही थी जिसने वर्ष 2009 में गणना प्रक्रिया के लिये 489 करोड़ रुपये आवंटित किये थे और वर्ष 2014 तक करीब 80 फीसदी प्रक्रिया पूरी हो गयी थी।

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up