सोहराबुद्दीन फर्जी एनकाउंटर मामले में दो और गवाह मुकरे

सोहराबुद्दीन शेख और तुलसीराम प्रजापति के कथित फर्जी एनकाउंटर मामले में अभियोजन पक्ष के दो और गवाह अपने बयानों से मुकर गए हैं. अब तक इस मुकदमे के 85 गवाह अपने बयानों से मुकर चुके हैं.
बुधवार को मुकरने वाले गवाहों में वकील कृष्णा त्रिपाठी भी शामिल हैं , जो पहले प्रजापति की वकील हुआ करती थीं. दूसरा गवाह है महिपाल सिंह. राजस्थान पुलिस की हिरासत में 2006 में प्रजापति के फरार होने के बाद सिंह ही अधिकारियों को गाड़ी से लेकर गया था.
दोनों बुधवार को सीबीआई न्यायाधीश एस. जे. शर्मा के समक्ष पेश हुए. त्रिपाठी ने अपने बयान में कहा कि वो प्रजापति के खिलाफ उज्जैन में दर्ज चोरी के तीन मुकदमे देख रही थीं.
आपको बता दें कि सोहराबुद्दीन शेख और उसकी पत्नी का एनकाउंटर हुआ था. आरोप है कि इन दोनों की 2005 और 2006 में कथित तौर पर फर्जी मुठभेड़ में हत्या कर दी गई थी. जिस वक्त सोहराबुद्दीन शेख को एनकाउंटर में मारा गया था, गुजरात और राजस्थान दोनों ही राज्यों में बीजेपी सत्ता में थी. दोनों राज्यों की सीमा पर हुई इस घटना ने देश की राजनीति को हिलाकर रख दिया था.

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up