पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, BSF के असिस्टेंट कमांडेंट सहित चार जवान शहीद

नई दिल्ली: जम्मू के सांबा जिले के रामगढ़ सेक्टर के इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तान की तरफ से बीती रात एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन हुआ। पाकिस्तान ने रामगढ़ की नारायणपुर में बीएसएफ की एक पोस्ट को निशाना साध कर गोलाबारी की और इस हमले में देश के चार जवान शहीद हो गए। हमले में चार जवान घायल भी हुए हैं जिन्हें मिलिट्री अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शहीद जवानों के नाम हैं असिस्टेंट कमांडेंट जतिंदर सिंह, ASI राम निवास, ASI रजनीश कुमार और कॉन्स्टेबल हंसराज। कुछ ही दिन पहले दोनों देशों के बीच हुई फ्लैग मीटिंग में सीजफायर का उल्लंघन ना करने पर सहमति हुई थी लेकिन पाकिस्तान अब भी सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है। इस साल पाकिस्तान अब तक 1000 से भी ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन कर चुका है।

बता दें कि पाकिस्तान की ओर से पिछले कुछ समय में सीजफायर उल्लंघन की घटनाओं में काफी तेजी आई है। पाक रेंजर्स के जवानों ने शनिवार को भी अखनूर के परगवाल सेक्टर में भारी गोलाबारी की थी जिसके कारण बीएसएफ के दो जवान जवाबी कार्रवाई में शहीद हो गए थे। गौरतलब है कि पाकिस्तान द्वारा सीजफायर उल्लंघन की घटनाएं उस वक्त हो रही है, जब पिछले ही दिनों भारत-पाक के बीच डीजीएमओ स्तर पर सीमा पर शांति बहाल करने की दिशा में कदम उठाने का फैसला किया गया था। शनिवार और रविवार को पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिए जाने के बाद पाकिस्तान की ओर से अनुरोध किए जाने के बाद सोमवार शाम साढ़े 5 बजे आरएसपुरा स्थित भारत-पाक सीमा पर फ्लैग मीटिंग का आयोजन हुआ था। इस बैठक में बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। बैठक के दौरान भारत ने पाकिस्तान के अधिकारियों से सीजफायर उल्लंघन की घटना पर विरोध जताते हुए शांति बहाली के लिए अनुकूल माहौल बनाने की बात कही थी। वहीं पाकिस्तान रेंजर्स के जवानों ने भारत से सीमा पर कार्रवाई रोकने का अनुरोध करते हुए, सीमा और नियंत्रण रेखा पर सीजफायर का उल्लंघन ना करने का वादा किया था।

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up