तीन महीने बाद सदन में लौटे अरुण जेटली, 16 अगस्त से वापस संभालेंगे कार्यभार

किडनी ट्रांसप्लांट करवाने के बाद आज उप सभापति पद के लिए हो रहे चुनाव में हिस्सा लेने के लिए अरुण जेटली सदन में आये। किडनी की बीमारी के चलते उन्होंने वित्त मंत्री का पद छोड़ दिया था। जिसके 3 महीने बाद आज सदन में अपनी उपस्थिति दी और वो 16 अगस्त से अपना कार्यभार वापस संभालेंगे। फिलहाल उनके स्थान पर रेल और कोयला मंत्री पीयूष गोयल वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार संभाले हुए हैं।

आपको बता दें कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में जेटली को वित्त मंत्री बनाया गया था। मई में उनका किडनी ट्रांसप्लांट हुआ, जिसके बाद से वह घर पर ही हैं। अब नॉर्थ ब्लॉक में पहली मंजिल पर मौजूद जेटली के ऑफिस में नवीनीकरण और सफाई का काम चल रहा है जिससे मंत्री को संक्रमण से बचाया जा सके। सूत्रों ने बताया है कि डॉक्टरों ने जेटली को सलाह दी थी कि वह तीन महीने तक भीड़भाड़ से दूर रहें। अब यह समयसीमा मध्य अगस्त में पूरी हो रही है।

जेटली सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहे हैं। पिछले दिनों उन्होंने घर पर रहते हुए ही आर्थिक और गैर-आर्थिक मुद्दों पर ब्लॉग लिखे हैं। असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) का मुद्दा हो या फिर आपातकाल के बाद चार दशक, संसद में अविश्वास प्रस्ताव, राफेल लड़ाकू विमान और जीएसटी जैसे तमाम मुद्दों पर सोशल मीडिया साइट पर वह अपने विचार रखते रहे हैं। इस दौरान कुछ कार्यक्रमों में उन्होंने वीडिये कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये भागीदारी की। बैंकिंग कंक्लेव और माल और सेवाकर (जीएसटी) की पहली वर्षगांठ जैसे आयोजनों में उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भाग लिया।

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up