Home » उत्तर कोरिया ने 3 अमेरिकी कैदियों को किया रिहा, खुश डोनाल्ड ट्रंप ने किया यह ट्वीट!

उत्तर कोरिया ने 3 अमेरिकी कैदियों को किया रिहा, खुश डोनाल्ड ट्रंप ने किया यह ट्वीट!

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को घोषणा की कि विदेश मंत्री माइक पोम्पियो उत्तर कोरिया में हिरासत में रखे गए 3 अमेरिकी नागरिकों के साथ स्वदेश रवाना हो गए हैं। इन अमेरिकी नागरिकों को उत्तर कोरिया में एक साल से अधिक समय तक हिरासत में रखा गया था। बहरहाल उत्तर कोरिया की इस कार्रवाई को लंबे समय से धुर विरोधी रहे दोनों देशों के बीच संबंधों में सुधार के हालिया संकेत के तौर पर देखा जा रहा है। ट्रंप ने ट्विटर पर लिखा कि पोम्पियो हवाई मार्ग से आ रहे हैं और उनके साथ 3 शानदार भद्र अमेरिकी पुरूष हैं, जिनसे हर कोई मिलने के लिए आतुर है।बंदियों की रिहाई का संकेत देते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह गुरुवार की रात करीब 2 बजे एंड्रयूज वायुसेना अड्डे पर उनका स्वागत करेंगे। बुधवार को पोम्पियो की उत्तर कोरिया की यात्रा के मद्देनजर बंदियों की यह रिहाई सामने आई है। पोम्पियो उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन एवं ट्रंप के बीच ऐतिहासिक शिखर वार्ता की तैयारियों को अंतिम रूप देने के इरादे से उत्तर कोरिया आए थे। ट्रंप ने ट्विटर पर लिखा,‘किम जोंग उन के साथ बातचीत बेहतर होने वाली है। दिन और तारीख तय कर ली गई है।’ उत्तर कोरिया ने किम डोंग चुल, किम हाक सोंग और टोनी किम (तीनों कोरियाई मूल के अमेरिकी नागरिक) पर राष्ट्र विरोध गतिविधि में लिप्त रहने का आरोप लगाया था। बहरहाल उनकी गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित बताया जाता रहा है।

अप्रैल 2017 में टोनी किम को हिरासत में लिया गया था। टोनी के परिवार ने उन सभी का शुक्रिया अदा किया जिन्होंने उनकी वापसी के लिए काम किया और उत्तर कोरिया के साथ सीधे-सीधे बातचीत करने के लिए ट्रंप का भी शुक्रिया अदा किया। दक्षिण कोरियाई मूल के अमेरिकी नागरिक किम डोंग चुल को अप्रैल 2016 से 10 साल जेल की सश्रम सजा सुनाई गई थी। किम हाक सोंग प्योंगयांग यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस ऐंड टेक्नोलॉजी (PUST) द्वारा संचालित एक प्रायोगिक फार्म के कृषि विकास में काम करते थे। कथित राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के चलते उन्हें पिछले साल मई में हिरासत में लिया गया था। पोम्पियो ने अपनी यात्रा के दौरान उत्तर कोरिया की सत्तारूढ़ पार्टी की केंद्रीय समिति के उपाध्यक्ष किम योंग चोल से संभावित ट्रंप-किम जोंग उन शिखर वार्ता को लेकर चर्चा की।

पोम्पियो ने कहा,‘दशकों तक हम विरोधी रहे हैं। अब हमें उम्मीद है कि हम इस विवाद को खत्म करने के लिए मिलकर काम कर सकते हैं। कई बदलाव जारी हैं।’ किम ने उत्तर एवं दक्षिण कोरिया के बीच संबंधों में सुधार का भी उल्लेख किया। पोम्पियो की यह दूसरी उत्तर कोरियाई यात्रा है। हालांकि उन्होंने अपनी यात्रा के बारे में औपचारिक घोषणा नहीं की थी। ईरान के साथ हुए परमाणु समझौते से अमेरिका के अलग होने की घोषणा के बाद ट्रंप ने मंगलवार को इस अभियान के बारे में बताया था। पोम्पियो की आज की यात्रा के बारे में घोषणा करते हुए ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा,‘योजनाएं बन रही हैं। संबंधों में सुधार हो रहा है। उम्मीद है कि चीन, दक्षिण कोरिया और जापान की मदद से समझौता हो पाएगा, जिससे कि हर किसी को समृद्धि और सुरक्षा प्राप्त हो सके।

ई-पत्रिका

मनोरंजन

धर्म