सीएम योगी की रात्रि चौपाल : नहीं मिले शौचालय, अधिकारियों को हड़काया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले जनता का मूड जानने के लिए ताबड़तोड़ दौरे कर रहे हैं। सीएम योगी सोमवार को प्रतापगढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने रात को कंधई मधुपुर गांव में लोगों की चौपाल लगाई। इस कार्यक्रम में सीएम गांव के हजारों लोगों से मुखतिब हुई और एक-एक कर सभी योजनाओं के बारे में लोगों से जानकारी ली है।
मुख्यमंत्री के सवाल के जवाब में ज्यादातर लोगों ने इनकार कर दिया। इसके बाद सीएम योगी ने सबके सामने अधिकारियों से जवाब मांगा। योगी ने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि कल तक यहां कैंप लगाकर राशनकार्ड सत्यापन का कार्य हो जाना चाहिए। योगी ने सीडीओ से लेकर डीएम तक को मंच पर लतब कर लिया। सीएम योगी ने अस्पताल और अनाज मंडी का औचक निरीक्षण भी किया।

चौपाल के बाद योगी दलित दयाराम सरोज के घर पहुंचे और जमीन पर बैठकर परिवार के संग खाना खाया। यूपी में 21 प्रतिशत दलित आबादी है। योगी रात में गांव के ही सरकारी हाईस्कूल में ही रुके। दलितों के मुद्दे पर राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दलित नहीं वो हमारे लिए जनार्दन का एक स्वरूप है। इस देश के संविधान को अगर किसी से खतरा है तो कांग्रेस से है। राहुल गांधी से खतरा है, इन्होंने न्यायपालिका तक को नहीं छोड़ा। इन लोगों ने पूरे देश का माहौल खराब करने की कोशिश की है।

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up