यूपी में फिर आया तूफान, 14 की मौत, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। मौसम के बदले तेवरों ने उत्तर प्रदेश के लिए एक बार फिर से चेतावनी जारी कर दी है। गुरुवार को अगले कुछ घंटों में उत्तर प्रदेश में तेज आंधी-तूफान आने की संभावना है। प्रदेश में बुधवार को आंधी-बारिश और गर्मी के कारण 14 लोगों की मौत हो गई। उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में आए तूफान ने एक बार फिर तभाही मचाई। आपको बता दें कि मौसम विभाग ने बुधवार को तेज आंधी-तूफान की आशंका जताई थी। विभाग ने गुरुवार को भी प्रदेश के कुछ इलाकों में आंधी-तूफान संभावना जताई है। हालांकि, देश के उत्तरी और उत्तर पश्चिमी हिस्से में सक्रिय चक्रवाती दबावों के चलते मॉनसून की रफ्तार धीमी हो गई है।

दिल्ली और एनसीआर में चलेगी आंधी…

दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी परिक्षेत्र में आज धूल का गुबार छाया रहा और केन्द्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने अनुमान व्यक्त किया कि अगले तीन दिन तक यह धुंध छाई रह सकती है। मंत्रालय के अनुसार दिल्ली के ऊपर छायी धूल भरी धुंध के लिये राजस्थान में आई धूल भरी आंधी मुख्य वजह है।

कहां कितनी लोगों की हुई मौत…
दीवार और पेड़ गिरने से अलग-अलग हादसों में अवध के जिलों में सात लोगों की मौत हो गई। मृतकों में सीतापुर के चार, गोंडा के दो और फैजाबाद के एक शामिल थे। जबकि कन्नौज और कौशांबी में दो-दो और हरदोई में एक की जान गई है। वहीं, लू लगने से बांदा और महोबा में एक-एक की मौत हो गई। मौसम विभाग ने गुरुवार को अलर्ट जारी किया है।

पेड़ के नीचे दबे बच्चे, 2 की मौत, 1 घायल…

गोंडा में आंधी-तूफान की वजह से 2 लड़कियों की मौत हो गई जबकि एक बच्चा घायल हो गया है। बताया जा रहा है दोनों मृतक चचेरी बहन हैं। हादसा उस वक्त हुआ जब बारिश से बचने के लिए ये सभी आम के पेड़ नीचे खड़े थे लेकिन तेज आंधी की वजह से पेड़ टूट गया और दोनों लड़कियों की मौत हो गई। बच्चे की हालत गंभीर है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दीवार ढहने से दो भाईयों की मौत…

सीतापुर में तेज आंधी के साथ हुई जोरदार बारिश हुई। आंधी की वजह से दीवार गिरने से यहां दो भाइयों की मौत हो गई। वहीं, इस हादसे में उनकी मां गम्भीर रूप से घायल हो गई। हादसा सदरपुर थाना इलाके के धरमपुर गांव में हुआ। हादसे के बाद परिवार में मातम का माहौल है।

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up