जल्द नीरव मोदी की गिरफ्तारी संभवः फैसला ले सकता है हॉन्गकॉन्ग प्रशासन

बीजिंगः चीन ने आज कहा कि भारत में वॉन्टेड आभूषण कारोबारी नीरव मोदी को गिरफ्तार करने के भारतीय एजेंसियों के अनुरोध पर हांगकांग प्रशासन जल्द फैसला ले सकता है. हॉन्गकॉन्ग अपने कानूनों और परस्पर न्यायिक सहायता समझौते के आधार पर ये फैसला कर सकता है. विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने पिछले हफ्ते संसद में कहा था कि उनके मंत्रालय ने चीन के हांगकांग विशेष प्रशासकीय क्षेत्र की सरकार से नीरव दीपक मोदी को अस्थाई तौर पर गिरफ्तार करने का आग्रह किया है.’

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग सुआंग ने इस बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘एक देश दो प्रणाली और हांगकांग विशेष प्रशासकीय क्षेत्र के मूल कानून के तहत हांगकांड प्रशासन केन्द्र सरकार की स्वीकृति और सहायता के साथ दूसरे देशों के साथ पास्परिक न्यायिक सहायता के लिये समुचित प्रबंध कर सकती है.’

हांगकांग प्रशासन उठाएगा कदम
उन्होंने कहा, ‘भारत यदि इस संबंध में हांगकांग प्रशासन को उपयुक्त आग्रह भेजता है तो हमारा मानना है कि हांगकांग प्रशासन संबंद्ध मुद्दे में मूलभूत कानून का पालन करते हुये इस बारे में संबद्ध न्यायिक समझौते के तहत कदम उठायेगा. ’’

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के 12,700 करोड़ रुपये के घोटाले में नीरव मोदी वांछित है. हाल में आई रिपार्टों के अनुसार नीरव मोदी के हॉन्गकॉन्ग में होने की सूचना है. हॉन्गकॉन्ग चीन का एक विशेष प्रशासकीय क्षेत्र है.

ई-पत्रिका

धर्म

विचार

Scroll Up