ED के तीसरे समन पर भी पेश नहीं हुए अरविंद केजरीवाल

Delhi News:ED के तीसरे समन पर भी पेश नहीं हुए अरविंद केजरीवाल

New Delhi: दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल प्रवर्तन निदेशालय (ED) के तीसरे समन पर भी पेश नहीं हुए। उन्हें आज पूछताछ के लिए बुलाया गया था।AAP ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि केजरीवाल को गिरफ्तार करने की साजिश रची जा रही है।बता दें, इससे पहले भी ED ने केजरीवाल को 2 समन भेजे थे, लेकिन वे पेश नहीं हुए थे। उन्होंने व्यस्तता का हवाला देते हुए पेश होने से इनकार कर दिया था।

केजरीवल ने ED को लिखा पत्र, नोटिस को बताया अवैध

केजरीवाल ने इस संबंध में ED को पत्र लिखा है और कहा है कि वह जांच में सहयोग करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि वह जांच में सहयोग करेंगे, लेकिन एजेंसी का नोटिस अवैध है।दूसरी तरफ AAP ने सवाल किया, “चुनाव से ठीक पहले क्यों भेजा गया है नोटिस?” पार्टी ने आरोप लगाया कि ED का इरादा केजरीवाल को गिरफ्तार करना है और वो उन्हें चुनाव प्रचार से रोकना चाहती है।

प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्‍ट (PMLA) के तहत समन जारी होने पर कोई भी व्यक्ति अधिकतम 3 बार ही पेशी से बच सकता है। ऐसे में अब ED केजरीवाल के घर जा सकती है।इसके अलावा एजेंसी उनके खिलाफ गैर-जमानती वारंट की मांग करते हुए कोर्ट भी जा सकती है। कोर्ट उन्हें एक तय तारीख और समय पर पेश होने के लिए कह सकता है।केजरीवाल द्वारा कोर्ट का आदेश न मानने पर एजेंसी उन्हें गिरफ्तार कर सकती है।मामले में केजरीवाल के पास 2 विकल्प हैं। पहला, वे ED के समन को कोर्ट में चुनौती दे सकते हैं और दूसरा, वे कोर्ट से अग्रिम जमानत ले सकते हैं।बता दें, ED ने केजरीवाल को पहला समन भेज 2 नवंबर को पेश होने को कहा था। तब केजरीवाल विधानसभा चुनावों में व्यस्त होने के कारण पेश नहीं हुए थे।ED ने दूसरे समन में उन्हें 21 दिसंबर को पेश होने को कहा था, लेकिन वे विपश्यना पर चले गए।

क्‍या आरोप है केजरीवाल पर

केजरीवाल पर आरोप है कि जब शराब नीति बनाई जा रही थी, तब वह कई आरोपियों के संपर्क में थे और उन्होंने मुख्य आरोपियों में से एक समीर महेंद्रू के साथ वीडियो कॉल पर बात की थी।ED की चार्जशीट में भी केजरीवाल का नाम है। एक अन्य आरोपी विजय नायर ने पूछताछ में कहा था कि उसने केजरीवाल से उनके आवास पर मुलाकात की थी। एक अन्य आरोपी ने भी पूछताछ में केजरीवाल का नाम लिया था।

Related Articles

Back to top button